गुरुग्राम। राष्‍ट्रीय राजधानी से सटे हरियाणा के गुरुग्राम में दिन दहाड़े दिल दहला देने वाली घटना हुई है। यहां 6 ऑटोरिक्‍शा चालकों ने 42 साल की महिला के साथ गैंगरेप किया, जिसने मानेकर के लिए ऑटो लिया था। यह घटना एनएच-8 पर गुरुग्राम के नखरोला चौक के पास दिनदहाड़े दोपहर करीब 2.30 बजे हुई, जहां से उस ऑटो ड्राइवर ने महिला को अगवा कर लिया, जिसमें वह बैठी थी।
 
दिल्‍ली की रहने वाली यह महिला किसी कंपनी के साथ वित्‍तीय मामलों को सुलझाने के स‍िलसिले में मानेसर जा रही थी, जहां उसके पति काम करते थे। न्‍यूज18 की रिपोर्ट के मुताबिक, 2013 में महिला के पति की मौत हो गई थी, लेकिन उनके निधन को 5 साल बीत जाने के बाद भी कंपनी के साथ वित्‍तीय मामलों का निपटारा नहीं हुआ था, जिसके लिए वह शनिवार को मानेसर जा रही थी, जब ऑटो ड्राइवर ने उसे अगवा कर लिया।
 
ऑटो ड्राइवर उसे गुरुग्राम के भंगरोला गांव में एक मकान के भीतर ले गया, जहां पहले से ही उसके 3 दोस्‍त मौजूद थे और उनका इंतजार कर रहे थे। उन्‍होंने महिला को यहां बंधक बना लिया और बारी-बारी से उसके साथ दुष्‍कर्म किया। इसके बाद उन्‍होंने महिला को दो अन्‍य लोगों के हवाले कर दिया, जिन्‍होंने भी उसके साथ दुष्‍कर्म किया। इन दोनों ने एनएच-8 के पास चलते ऑटोरिक्‍शा में उसके साथ दुष्‍कर्म किया और फिर उसे रामपुरा फ्लाइओवर के पास एक फूड स्‍टॉल के करीब फेंक दिया। ये दोनों भी ऑटोरिक्‍शा ड्राइवर थे।
 
राहगीरों ने महिला को अस्‍पताल में भर्ती कराया, जहां उसका उपचार किया गया। इसके बाद उसने गुरुग्राम पुलिस में अपने साथ हुई दरिंदगी की शिकायत दर्ज कराई। मेडिकल जांच में महिला के साथ दरिंदगी की पुष्टि हुई है। महिला की शिकायत के आधार पर पुलिस ने इस मामले में उसे अगवा करने वाले ऑटो रिक्‍शा ड्राइवर अंकित और उसके दोस्‍तों दीपक, महिपाल, अजीत और सुन्‍नू को रविवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस इस मामले में दो अन्‍य आरोपियों की पहचान सुनिश्चित करने और उन्‍हें गिरफ्तार करने की कोशिशों में जुटी है।
 

02-Jan-2019

Related Posts

Leave a Comment