नई दिल्ली। दिल्ली की पहचान बन चुकी डेढ़ दशक पुरानी 108 फुट ऊंची हनुमान की मूर्ति को शिफ्ट किया जा सकता है। करोल बाग इलाके में अतिक्रमण पर नाराज दिल्ली हाईकोर्ट ने मूर्ति को एयरलिफ्ट करने की संभावनाएं तलाशने को कहा है। करोल बाग की सड़कों पर लगातार बढ़ रहे अतिक्रमण को लेकर कोर्ट एक पब्लिक पिटीशन पर सुनवाई कर रहा है।

मामले पर सुनवाई करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा है कि करोल बाग और झंडेवालान के बीच करीब डेढ़ दशक पुरानी 108 फुट ऊंची हनुमान की मूर्ति को एयरलिफ्ट किया जा सकता है या नहीं। इस पर सिविक एजेंसिया और एमसीडी अपनी रिपोर्ट दे, इस बारे में उपराज्यपाल से भी मीटिंग करें।

Image result for karol bagh hanuman

हाईकोर्ट ने अपने विचार रखते हुए कहा कि अमेरिका में भी कई जगहों पर कई गगनचुंबी इमारतों को एक जगह से दूसरी जगह शिफ्ट किया गया है। दिल्ली हाईकोर्ट ने सिविक एजेंसियों से नाराज होते हुए पूछा कि सिविक एजेंसी दिल्ली की कोई एक जगह बताएं जहां पर अतिक्रमण ना हुआ हो और नियमों का पालन हुआ हो।

सिविक एजेंसियों को फटकार लगाते हुए कोर्ट ने कहा है कि लोगों का माइंडसेट हो गया है कि कोई उनका कुछ नहीं बिगाड़ सकता। सिविक एजेंसियों को कई मौके दिए लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया। लगता है कोई कुछ करना ही नहीं चाहता। 15 नवंबर तक अतिक्रमण हटाने का निर्देश दिया गया था. लेकिन हाईकोर्ट ने इसमें बदलाव करते हुए सुनवाई की अगली तारीफ 24 नवंबर तय की है।

21-Nov-2017

Related Posts

Leave a Comment