मुंबई 

देश भर में चल रहे ‘मी टू’ अभियान के तहत हर रोज चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। महिलाओं के इस अभियान का बड़े पैमाने पर समर्थन भी मिल रहा है। इस ‘मी टू’ मुहिम में हर रोज नए-नए नाम उभरकर सामने आने का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। वहीं, दूसरी ओर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के मुखिया राज ठाकरे ने कहा कि मीटू अभियान गंभीर मुद्दों से ध्यान भटकाने वाला है। राज ठाकरे ने कहा कि ऐसा लगता है कि मीटू की कैंपेन पेट्रोल-डीजल की कीमतों, बेरोजगारी और रुपये की गिरती कीमतों से ध्यान भटकाने के लिए किया गया है।

बुधवार(17 अक्टूबर) को अमरावती में राज ठाकरे ने कहा कि #MeToo अभियान सिर्फ इस वजह से चर्चा में है कि कई लोग आम जनता का ध्यान पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों, बेरोजगारी और रुपये की गिरती कीमतों से हटाना चाहते हैं। राज ठाकरे ने महिलाओं के पक्ष में बात करते हुए कहा कि अगर किसी भी महिला के साथ किसी भी तरह का यौन शोषण हुआ है तो वो मनसे के पास आ सकती है। हम उस आरोपी को सबक सिखाएंगे। महिलाओं को तुरंत आवाज उठानी चाहिए 10 साल बाद नहीं।

तनुश्री दत्ता और नाना पाटेकर विवाद में बात करते हुए राज ठाकरे ने कहा, मैं नाना पाटेकर को जानता हूं, वह अभद्र आदमी हैं, वह बेवकूफाना हरकते करते हैं। मगर मुझे नहीं लगता है कि वह इस तरह की हरकत कर सकते हैं। इस मामले को कोर्ट देखेगी, इसमे मीडिया का क्या लेना-देना है। मी टू एक गंभीर मुद्दा है, ऐसे में ट्विटर पर इस मुद्दे को लेकर बहस करना बिल्कुल भी सही नहीं है।

18-Oct-2018

Leave a Comment