दिल्ली 

देश भर में चल रहे ‘मी टू’ अभियान के तहत हर रोज चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। महिलाओं के इस अभियान का बड़े पैमाने पर समर्थन भी मिल रहा है। इस ‘मी टू’ मुहिम में हर रोज नए-नए नाम उभरकर सामने आने का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। वहीं, दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की महिला विधायक ने पीड़ित महिलाओं को लेकर विवादित बयान दिया है।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक, मध्य प्रदेश के इंदौर से बीजेपी विधायक उषा ठाकुर ने कहा, ‘महिलाएं तरक्की के लिए शॉर्टकट अपनाती हैं, निजी स्वार्थों के लिए नैतिक मूल्यों से समझौता करती हैं। इसलिए समस्यायों में फंसती हैं। जीवन मूल्यों से समझौता कर पाई गई सफलता निरर्थक है।’ उषा ठाकुर का ये बयान ऐसे समय में सामने आया है जब विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर खुद यौन शोषण के आरोपों में फंसे हुए हैं गौरतलब है कि देश भर में चल रहे ‘मी टू’ अभियान के तहत हर रोज चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। आग की तरह फैल रही ‘मीटू’ मुहिम की लपटें राज्यसभा सांसद और केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर तक पहुंच गई है। एमजे अकबर पर कई महिला पत्रकारों ने यौन शोषण के आरोप लगाए हैं। अकबर पर लगे सभी आरोप तब के हैं जब वे मीडिया संस्थानों में वरिष्ठ पद पर थे।

वहीं, विदेश से लौटने के बाद अकबर ने खुद पर लगे यौन उत्पीड़न और अनुचित व्यवहार के आरोपों पर पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए अकबर ने रविवार (14 अक्टूबर) को उनके खिलाफ लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों को खारिज कर दिया। उन्होंने उन पर इस तरह के आरोप लगाने वाली महिलाओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की चेतावनी भी दी।

15-Oct-2018

Related Posts

Leave a Comment