दिल्ली 

हरिद्वार से दिल्ली के लिए भारतीय किसान क्रांति यात्रा को राजधानी में प्रवेश करने से रोकने के लिए दिल्ली पुलिस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इसके लिए यूपी से दिल्ली में प्रवेश करने के सभी रास्तों को सील कर दिया गया है।  ये किसान मंगलवार को गांधी जयंती पर राजघाट से संसद तक विरोध मार्च करने की तैयारी में हैं। लिहाजा राजघाट और संसद के आस-पास भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसानों की इस यात्रा को देखते हुए जगह-जगह नाकेबंदी की गई है और कई इलाकों में धारा 144 लगा दी गई है। इससे पहले सोमवार को किसानों की यात्रा साहिबाबाद पहुंच गई। इस दौरान हजारों की संख्या में किसानों ने जीटी रोड को पूरी तरह जाम कर दिया दिल्ली के लिए कूच करने लगे। जिलाधिकारी और एसएसपी ने करीब एक घंटे तक किसानों को समझाने की कोशिश की लेकिन किसान दिल्ली जाने पर अड़े रहे। देर रात प्रशासन और पुलिस के अधिकारियों के साथ किसानों के एक प्रतिनिधिमंडल ने दिल्ली से वापस लौटे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से हिंडन एयर फोर्स स्टेशन पर मुलाकात की।

मुख्यमंत्री और प्रतिनिधिमंडल के बीच करीब दो घंटे चली वार्ता विफल रही और प्रतिनिधिमंडल के लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने की मांग पर अड़े रहे जिस पर मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्रियों से बातचीत की। इसके बाद भाकियू का एक प्रतिनिधिमंडल गन्ना मंत्री सुरेश राणा के साथ दिल्ली के लिए रवाना हो गया।

 

02-Oct-2018

Leave a Comment