नई दिल्ली: योगगुरु बाबा रामदेव के नेतृत्व वाली पतंजलि आयुर्वेद ने अपने मैसेजिंग ऐप ‘किम्भो’ को गूगल प्ले स्टोर से गुरुवार को हटा लिया. कंपनी ने इसका ‘ट्रायल’ वर्जन प्ले स्टोर पर डालने के एक दिन बाद ही हटा लिया है. कंपनी ने आरोप लगाया कि यह स्वेदशी कंपनी के खिलाफ बहुराष्ट्रीय कंपनियों का षडयंत्र है. कंपनी ने कहा कि ऐप जल्द ही वापस आयेगा.

पतंजलि के प्रवक्ता एस के तिजारवाला ने ट्वीट में कहा कि पतंजलि किम्भो ऐप बहुराष्ट्रीय कंपनियों के षड्यंत्र का शिकार हुआ. हमें असुविधा के लिये खेद है. यह जल्द वापस आयेगा. उन्होंने ऐप को हटाने का कारण नहीं बताया है. उल्लेखनीय है कि पतंजलि ने बुधवार को किम्भो ऐप का ट्रायल वर्जन पेश किया था और कहा था कि पतंजलि 27 अगस्त को इसे आधिकारिक रूप से पेश करेगी. बता दें कि इस वर्ष 31 मई को पतंजलि ने किम्भो ऐप को पेश किये जाने के एक दिन बाद ही इसे गूगल प्ले स्टोर और ऐपल ऐप स्टोर से हटा लिया था. कंपनी ने कहा था कि इसे सिर्फ एक दिन ट्रायल के लिये जारी किया गया था. इस दौरान, कई प्रौद्योगिकी विशेषज्ञों ने ऐप में सुरक्षा खामियां उजागर की.

20-Aug-2018

Leave a Comment