दिल्ली : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने शुक्रवार(17 जुलाई) को घोषणा की कि पाकिस्तान के पूर्व सलामी बल्लेबाज नासिर जमशेद पर 10 साल का प्रतिबंध लगा दिया गया है। ख़बरों के मुताबिक, जमशेद पर ये प्रतिबंध PCB के भ्रष्टाचार विरोधी नियमों के बार-बार किए उल्लंघन के लिए लगाया गया है।

एक न्यूज़ वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक, बोर्ड की भ्रष्टाचार विरोधी युनिट ने पाकिस्तान सुपर लीग के 2016-17 सीजन के दौरान जमशेद को फिक्सिंग का दोषी पाया है। इस तीन सदस्यीय समिति ने फैसला किया है कि जमशेद को दस साल के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से बैन करने के साथ उन्हें पाकिस्तान क्रिकेट मैनेजमेंट में किसी भी पद पर काम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। रिपोर्ट के मुताबिक, पीसीबी के वकील तफज़ुल रिज़वी ने अपने बयान में कहा, कुछ केस ऐसे होते हैं, जिन्हें जीतने के बाद भी आपको खुशी नहीं होती है। ये ऐसा ही केस था क्योंकि एक खिलाड़ी ने स्पॉट फिक्सिंग और उसकी रिपोर्ट बोर्ड को ना करने की वजह से अपना करियर बर्बाद कर लिया। नासिर जमशेद ने 2008 में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था, उन्होंने पाकिस्तान के लिए दो टेस्ट और 48 वनडे मैच खेले हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले दो वर्षों में यह दूसरी बार नासिर जमशेद को दोषी ठहराया गया है। इससे पहले, पिछले साल दिसम्बर में जमशेद को 2017 पीएसएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में सही से सहयोग न देने के लिए एक साल के लिए प्रतिबंधित किया गया था। इस साल की शुरुआत में जमशेद पर लगा यह प्रतिबंध समाप्त हुआ था, लेकिन अब उन पर एक बार फिर प्रतिबंध लग गया है।

 

17-Aug-2018

Related Posts

Leave a Comment