एक शख्स की जो पिछले के साल से अपनी बीवी को घर वापिस लाने के लिए पुलिस से गुहार लगा रहा है। मामला उत्तराखंड के उधमसिंह नगर का है। हाथ में बीवी की तस्वीर लिए नसीम नाम का ये शख्स पिछले एक साल से थाने का चक्कर काट रहा है।
इसकी पत्नी खोई नहीं है, ना ही किसी ने किनडैप किया है। नसीम की मानें तो इसके दोस्त ने इसकी बीवी को उधार लिया था। जी हां उधार लेकिन अब वो उसे लौटा नहीं रहा है। बीवी उधार ली है ये सुनकर आपको हैरानी जरूर हो रही होगी लेकिन नसीम के मुताबिक ये सोलह आने सच है।
इस शख्स ने अपने दोस्त को अपनी बीवी उधार क्यों दी उसके पीछे की कहानी भी जान लीजिए। नसीम के मुताबिक उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के भोजपुर में रहने वाला इसका दोस्त शफी अहमद चेयरमैन का चुनाव लड़ना चाहता था लेकिन भोजपुर सीट पिछड़े वर्ग में आरक्षित हो गई इसीलिए उसने पिछड़ी जाति के दोस्त नसीम अहमद से उसकी बीबी रेहमत जहां को उधार मांग कर उसे चुनाव में खड़ा कर दिया।
किस्मत देखिए रहमत जहां चुनाव जीतकर चेयरमैन बन गई। डील के मुताबिक चुनाव के बाद उसे इसकी बीवी वापस करनी थी लेकिन अब एक साल हो गए लेकिन अब तक उसके दोस्त ने नसीम की बीवी को वापस नहीं किया है।
नसीम ने पहले पुलिस से शिकायत की और जब पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो कोर्ट से गुहार लगाई। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने छानबीन की तो पता चला नसीम से रेहमत जहां का तलाक हो चुका है जिसके बाद रेहमत जहां ने शफी अहमद से शादी कर ली लेकिन नसीम अब भी आस लगाए बैठा है कि उसकी बीवी एक दिन वापस आ जाएगी। 

siasat .com 

07-Aug-2018

Leave a Comment