रसोई गैस में कीमत में एक बार फिर इजाफा हुआ है। तेल कंपनियों ने उपभोक्ताओं को झटका देते हुए एलपीजी के दाम बढ़ा दिए हैं। सब्सिडी वाला सिलेंडर (14.2 किग्रा) 93.50 रुपये तो 19 किग्रा वाला व्यावसायिक सिलेंडर 146.50 रुपये महंगा हो गया है।

दिल्ली में बढ़ोतरी के बाद बिना सब्सिडी वाले सिलिंडर की कीमत 743 रुपये हो गई है। मुम्बई में 14.2 केजी सिलिंडर की कीमत हुई 718 रुपये। 19 केजी की क़ीमत 1268 रुपये हो गई है। 491.13 रुपये से बढ़कर 495.69 रुपये सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर का दाम 1 नवम्बर से।

रसोई गैस दाम के लिए चित्र परिणाम

चार माह से गैस सिलेंडर के रेट में चार चार रुपये प्रति माह की मामूली वृद्धि हो रही थी, लेकिन मंगलवार शाम इसमें 93.50 रुपये का बड़ा इजाफा कर दिया। इससे गैस सिलेंडर की कीमत बढ़कर करीब 751 रुपये हो गई। कीमतें बढ़ने का असर निम्न व मध्यम वर्गीय परिवारों पर अधिक पड़ेगा। शायद यह पहला मौका है, जब एकमुश्त 93 रुपये की वृद्धि हुई है। पिछले एक साल में सब्सिडी वाले गैस सिलेंडरों की कीमत में करीब 110 रुपये की बढ़ोत्तरी हो चुकी है। रसोई गैस की कीमत बढ़ रही है और सब्सिडी घटती जा रही है। माना जा रहा है कि सब्सिडी बंद होने से कालाबाजारी पर अंकुश लगेगा।

सब्सिडी बंद होने के बाद कुकिंग गैस सिलेंडर (14.2 किग्रा) और कामर्शियल सिलेंडर (19 किग्रा) की कीमत में अधिक अंतर नहीं रहेगा। माना जा रहा है कि अगले साल मार्च तक सब्सिडी और कामर्शियल सिलेंडर की कीमत का अंतर खत्म हो जाएगा और दुकानदार दुकानों पर घरेलू गैस के बजाय कामर्शियल गैस का इस्तेमाल करना पसंद करेंगे। इससे कामर्शियल सिलेंडरों की डिमांड बढ़ने का उम्मीद है, जिससे सरकारों का राजस्व भी बढ़ेगा। कारण, कुकिंग गैस सिलेंडर पर जीएसटी पांच फीसद और कामर्शियल गैस सिलेंडर पर जीएसटी 18 फीसद है।

 

01-Nov-2017

Related Posts

Leave a Comment