तिरुवनंतपुरम: केरल के तिरुवनंतपुरम में एक 40 साल की महिला और उसकी 19 साल की बेटी ने आग लगाकर आत्महत्या कर ली। दरअसल करीब 7 लाख रुपए का होम लोन नहीं चुका पाने के चलते मकान खोने के डर से दोनों ने आत्महत्या कर ली मीडिया में आई खबरों के अनुसार यह दर्दनाक हादसा मंगलवार (14 मई) को हुआ। बताया जा रहा है कि मां-बेटी ने कर्ज से निजात पाने के लिए मकान बेचने की भी कोशिश की थी, लेकिन खरीदार ने ऐन वक्त पर मकान लेने से इनकार कर दिया

जिले के नेय्यातिनकारा के पास मरयमुट्टोम की वैष्णवी ने मंगलवार दोपहर अपनी मां लेखा के साथ उस समय ये बड़ा कदम उठा लिया, जब उन्हें पता चला कि बैंक ऋण वसूली प्रक्रिया शुरू करने वाली है। नेय्यत्तिकारा में हुई इस घटना की जानकारी मिलने के बाद लोगों ने केनरा बैंक की स्थानीय शाखा के बाहर प्रदर्शन किया। साथ ही, बैंक के उन कर्मचारियों के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की, जिन्होंने मां-बेटी को आत्महत्या के लिए उकसाया। केरल के राजस्व मंत्री ई चंद्रशेखरन ने इस मामले में बैंक की कार्रवाई पर नाराजगी जताई है। साथ ही, जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है। परिजनों के मुताबिक, 15 साल पहले 2003 में केनरा बैंक से घर बनाने के लिए 5 लाख रुपए का कर्ज लिया था।

15-May-2019

Related Posts

Leave a Comment